Headbar

कंप्यूटर डाटा स्टोरेज इन हिंदी

 कंप्यूटर डाटा स्टोरेज क्या है? और इसका इसत्माल कहा होता है? कंप्यूटर डाटा स्टोरेज क्यों जरुरी है? तो चलिये जानते हैं इन सारे सवालो के जवाब यानी की "कंप्यूटर डाटा स्टोरेज इन हिंदी" Computer data storage in hindi.


मेरे प्यारे दोस्तों आप सब के दिमाग में यह प्रश्न जरूर आता होगा कि हम जो कंप्यूटर इसत्माल करते है उसमें तो बहुत सारे डाटा यानि की कोई चीज़ जो हम कंप्यूटर में सहेजें रहते है वो आखिर कहा रहता है। और यह किस यँत्र में रहता है। तो चलिए जानते हैं , कंप्यूटर डाटा स्टोरेज इन हिंदी। Computer Data Storage In Hindi.


कंप्यूटर डाटा स्टोरेज इन हिंदी।           

Computer Data Storage

कंप्यूटर डाटा स्टोरेज का मतलब है कि कंप्यूटर में जितने भी डेटा हम ड़ालते है वो किसी जगह पर सहेज होता है इस प्रकिर्या को कंप्यूटर डाटा स्टोरेज कहते हैं। और डाटा जहा स्टोर होता है उसे कंप्यूटर डाटा स्टोरेज डिवाइस कहते हैं।

                                        स्टोरेज डिवाइस कंप्यूटर का हार्डवेयर डिवाइस होता है जिसमें डेटा स्टोर होता है। जिसमें कई तरह का डेटा  जैसे कि सॉफ्टवेयर प्रोग्राम, डाक्यूमेंट्स, फोटोग्राफ,विडीओ Audio इत्यादि को सेव करते है। कंप्यूटर स्टोरेज डिवाइस मेमोरी की तरह काम करती है जिसे स्टोरेज मीडिया या डिजिटल मीडिया भी कहते हैं। कंप्यूटर डाटा स्टोरेज का इसत्माल किसी भी डेटा या जानकारी को डिजिटल तरीके से सेव करने में होता है। 

यह डाटा स्थायी या अस्थायी है सकती है। जब हम कंप्यूटर में कोई डेटा स्टोर करते है तो जब हम उस डेटा की जरुरत पड़ती है तो हम उसे खोज सकते हैं।

तो दोस्तों हमने जाना की कंप्यूटर स्टोरेज डेटा इन हिंदी यांनी की computer data storage in hindi लेकिन अब हम जानने वाले है कि कंप्यूटर स्टोरेज डिवाइस क्या है? यानी की what is storage device in hindi? तो चलिये जानते हैं बिना किसी देरी के।।


स्टोरेज डिवाइस क्या है? ( what is computer storage device?

कंप्यूटर का स्टोरेज डिवाइस एक हार्डवेयर होता है जो डाटा को स्टोर और पोर्ट के साथ साथ डाटा को आदान प्रदान करने के काम आता है। यह हार्डवेयर किसी भी तरह का हो सकता है यानी यह कंप्यूटर की अंदर भी लगा हो सकता है और बाहर भी। 

कंप्यूटर का स्टोरेज डिवाइस डेटा को या तो स्थाई सेव करते है या अस्थाइ। यह डेटा को वर्चुअली  स्टोर रखता है। किसी भी कंप्यूटर में कई तरह के डेटा स्टोरेज डिवाइस लगे होते हैं जैसे कि  RAM,CACHE,HARD DISC ETC.

यह कंप्यूटर का सबसे महव्पुर्ण भाग है यानी की इसके बिना सारे काम अधूरे से लगेंगे। 

स्टोरेज डिवाइस कितने प्रकार के होते हैं? (Types of storage device)


कंप्यूटर स्टोरेज डिवाइस को मुख्यत: तीन भागो मे बाँटा गया है। जिसकी पूरी जानकारी नीचे विस्तार से की गई है-

० प्राथमिक स्टोरेज ( Primary Storage)

० द्वित्यक स्टोरेज   (Secondary Storage)

० त्रितियक स्टोरेज ( Tertiary Storage)



० प्राथमिक स्टोरेज ( Primary Storage) : -

- प्राथमिक स्टोरेज को डायरेक्ट मेमोरी कहा जाता है क्योकि यह सीधा CPU से एक्सेस हो जाता है।   

- यह स्टोरेज main memory और Volatile मेमोरी के नाम से भी जाना जाता है।

- य़ह एक प्रकार का अस्थायी होती है। जब कभी आपका डिवाइस यानी कंप्यूटर या लैपटॉप बंद हो जाता है तो जो भी आपका डाटा होगा वो डिलीट हो जाएगा। इसलिए इसे अस्थायी मेमोरी कहते हैं। 

- प्राथमिक स्टोरेज का आकार छोटा होता है। 

- यह केवल अंदरूनी मेमोरी को स्टोर करता है।

- प्राथमिक स्टोरेज के कुछ उधारण- RAM, cache  मेमोरी इत्यादि।


० द्वित्यक स्टोरेज   (Secondary Storage)

इस तरह के डाटा स्टोरेज को CPU द्वारा सीधा एक्सेस नहीं कर सकते हैं।

इस तरह के स्टोरेज डिवाइस को इनपुट और आउटपुट चैनल की मदद लेनी पड़ती है अगर डेटा का आदान प्रदान करना है तो।

इस स्टोरेज यानी की secondary storage में डाटा को स्टोर करने की क्षम्ता ज्यादा होती है primary storage की तुलना में।

यह डाटा को स्थाई रखती है जब तक की हम ना इसे डिलीट कर दे।

यह दोनों प्रकार की डाटा को रखते हैं यानी की Internal memory और External memory.

Secondary storage की कुछ उदाहरण USB DRIVES , Floppy disk, इत्यादि।


० त्रितियक स्टोरेज ( Tertiary Storage)

इस तरह के डेटा स्टोरेज का इसत्माल पर्सनल कंप्यूटर में ना के बराबर होता है। इसका इसत्माल रोबोट्स जिसमें किसी मानव की आवशयक्ता नहीं है उसमें इसका इसत्माल किया जाता है।


दोस्तों आज के इस डिजिटल दुनिया में डेटा ही सबसे बड़ी ताकत है जिसके पास जितना ज्यादा डेटा है वह ऊतना ही ताकत्वर् है। इसलिए हमें computer data storage यानी की डेटा को संभाल कर रखना होता है।

तो चलिये दोस्तों जानते हैं कि computer data storage की सुरक्षा कैसे कर सकते हैं इसके बारे में जानते है-


computer data storage की सुरक्षा कैसे करें?

डेटा को सुरक्षित रखने के लिए डेटा बैकअप यानी की computer data storage की डेटा का बैकअप लेना बहुत ही जरुरी है जिस्से की डेटा सुरक्षित है जाती है। 

computer data storage की सुरक्षा भौतिक बैकअप( physical Backup), साझा ड्राइव( Shared Drive) और Online data की मदद से सुरक्षित रख सकते हैं। तो चलिये इन सभी को जो computer data storage की सुरक्षा करते है ,जानते है-



भौतिक बैकअप( physical Backup):

डाटा बैकअप का सबसे अच्छा तरीका है कि आप अपने डेटा का बैकअप लेले।यानी जब भी आप अपनी कंप्यूटर बंद करने वाले है तो उस्से पहले अपने डेटा का बैकअप जरूर लेले। 

वैसे तो आप अपने डेटा का बैकअप CD और DVD में भी ले सकते हैं और साथ ही साथ आप USB Drive का उपयोग भी कर सकते हैं।

यदि आप किसी कॉलेज के बच्चों के डेटा बना रहे हो लेकिन बीच में ही अगर आपको कंप्यूटर बंद हो गया तो आपका डाटा स्टोर नहीं रहेगा। इसलिए जब भी आप कोई डेटा फीड करते है तो साथ ही साथ आप उन्हें सेव भी कर ले। 


साझा ड्राइव( Shared Drive):-

यह सबसे अच्छा computer data storage को सहेजे रखने का साधन है। अगर आपके पास एक से अधिक यानी अगर आपकी कोई ऑफिस है जिसमें 2 या 2 से ज्यादा काम करने वाले बन्दे है यानी की कंप्यूटर है तो आपके लिए यह बहुत ही उपयोगी है।

Shared Drive में अगर आप कोई फाइल सेव रखते हैं तो अगर आप इसे किसी दूसरे कंप्यूटर के साथ साझा करते है तो दुसरा बन्दा भी इसे उसी समय में उस फाइल या प्रोजेक्ट पे काम कर सकता है।

इससे आपके काम पे कोई फर्क नहीं पडेगा क्योंकि अगर आप काम नहीं भी कर रहे हैं तो दुसरा बन्दा उसी वक़्त काम रहा होगा।

Online data 

आजकल computer data storage सबसे सस्ती और बहुत ही फेमस डिस्क स्टोरेज( Online Disk Storage) है। आप अपने डेटा किसी भी सर्वर पर अपलोड कर सकते हैं जिसमें आपका डाटा सेव रहेगा।

अगर आप अपने डेटा सर्वर पर अपलोड किये हुए हैं तो आप आसानी से अपना डेटा एक्सेस कर सकते हैं। online के माध्यम से computer data storage in hindi को अगर आप किसी सर्वर पे डाले हैं तो ना तो आपको किसी भूकंप या डिवाइस चोरी का कोई दर रहेगा क्योंकि आप कभी भी कहीं से भी आपना डेटा एक्सेस कर सकते हैं।


  कुछ कंप्यूटर स्टोरेज डिवाइस के नाम

दोस्तों डेटा स्टोर करने के लिए चार तरह के डिवाइस है


० मैग्नेटिक स्टोरेज डिवाइस

० ओप्तिकल स्टोरेज डिवाइस

० फ़्लैश मेमोरी डिवाइस

० औनलाइन क्लोड स्टोरेज




Conclusion

मेरे प्यारे दोस्तों आज आपने इस लेख के माध्यम से "कंप्यूटर डाटा स्टोरेज इन हिंदी" में कंप्यूटर डाटा स्टोरेज क्या है यह कितने प्रकार के होते हैं इत्यादि सिखा। मुझे उम्मीद है कि आपको यह लेख जो computer data storage है आपको पसंद आया होगा। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो अपने दोस्तों को भी शेयर कर दे।

धन्यवाद।।।

एक टिप्पणी भेजें

3 टिप्पणियाँ

  1. titanium arts
    TATONIC ART CUSTOMING · TATONIC ROCKING 바카라 사이트 T-TATONIC ROCKING febcasino.com T-TATONIC ROCKING T-TATONIC. This 토토 사이트 코드 unique and original design is crafted with the mens titanium wedding bands use of sustainable

    जवाब देंहटाएं
  2. The surface of the plastic half is a direct Bike Lock translation of the surface of the mold. For instance, to mold a transparent lens, the mold could have a extremely polished or mirrored surface. In these circumstances, even a fingerprint or a hairline scratch can show through on the molded half. Figure 7 is a surface end guide created by the Plastic Industry Association to be used throughout plastic injection molding.

    जवाब देंहटाएं